– हिमांशु ने बताया कि उसका इंटरव्यू लगभग 35 मिनट चला था। इंटरव्यू पैनल में 6 लोग थे, जिन्होंने 40 से 50 सवाल पूछे थे।
– सबसे रोचक सवाल पर बात करते हुए हिमांशु ने बताया कि उससे एक सवाल पूछा गया था कि टेक्नोलॉजी ने आदमी की जिंदगी को आसान बना दिया है या पेचीदा। हिमांशु ने जवाब दिया कि यह इस्तेमाल पर निर्भर करता है। अगर टेक्नोलॉजी संयमित तरीके से इस्तेमाल की जाए तो फायदेमंद है और असंयमित इस्तेमाल की जाए तो हानिकारक है।
22 लाख पैकेज की नौकरी छोड़ शुरू की थी यूपीएससी की तैयारी
– हिमांशु जैन ने अपनी पढ़ाई जींद से पूरी की इसके बाद आईआईटी, हैदराबाद से कंप्यूटर में एमटेक की। हिमांशु ने हैदराबाद में गूगल कंपनी में 22 लाख पैकेज में नौकरी ज्वायन कर ली थी, लेकिन आईएएस अफसर बनने के लिए उन्होंने नौकरी छोड़ दी और यूपीएससी परीक्षा की तैयारी में जुट गए।
– हिमांशु ने बताया कि उन्होंने 3 से 4 महीने कोचिंग ली लेकिन फिर दिल्ली में कमरा लेकर पढ़ाई की। हररोज 10 से 12 घंटे पढ़ाई करते थे।
– इससे पहले को दो अटेंप्ट में उनके मेन एग्जाम में नंबर कम आए थे। इस वजह से उन्होंने अपने मेन एग्जाम की जमकर तैयारी की।
परिवार वालों ने नहीं टूटने दिया हौसला
– हिमांशु ने बताया कि उसके दो बार असफल होने के बाद भी परिवार वालों ने हौसला टूटने नहीं दिया। वे लगातार उसे प्रोत्साहित करते रहे। इसका ही नतीजा है जो यह एग्जाम पास हो स