कोल्लाम : केरल में सोमवार को एक मां ने अपनी ही ममता ता गला घोंटते हुए अपने 14 वर्षीय बेटे की हत्‍या कर दी। इस मां को गुस्सा यहीं शांत नहीं हुआ, उसके बाद उसने बेटे के शव को आग लगाकर उसे घर के पीछे फेंक दिया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, यह मामला तिरुवनंतपुरम से करीब 60 किलोमीटर दूर कोल्लम का है। यहां एक मां ने पहले अपने बेटे की हत्या कर उसके शव को आग लगा दी और उसके बाद शव को घर के पिछले हिस्से में फेंक दिया।

इसके अगले दिन महिला अपने पति के साथ पुलिस स्‍टेशन गई और अपने बेटे की लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामले की जांच के दौरान महिला के बयान में कई विरोधाभास पाए। इतना ही नहीं जब पुलिस ने महिला जया से पूछा कि उसका हाथ कैसे जला तो वह इसके बारे में भी पुलिस को कुछ नहीं बता सकी।

वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि बुधवार को पुलिस ने जब घर का सर्च किया तो वहां से 200 मीटिर की दूरी पर पुलिस को शव मिला। कई बार पूछताछ करने के बाद 43 वर्षीय महिला ने अपना अपराध कबूल किया।

कोल्‍लमा पुलिस कमिश्‍नर डॉ.ए श्रीनिवास ने एनडीटीवी को बताया कि जया को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी जया ने बताया कि जब उसके बेटे जीतू ने किसी बात पर उसे चिढ़ाया तो उसने गुस्‍से में आकर उसकी हत्‍या कर दी।

जया ने यह कबूल किया कि वह अपने बेटे के शव को खींचकर कंपाउड तक ले गई और वहां उसे आग लगाई। इसके बाद उसने शव को दीवार के पार फेंक दिया। किसी के उकसाने की प्रकृति का तुरंत पता नहीं लगाया जा सकता लेकिन जया के पति ने बताया कि वह मानसिक रूप से अस्थिर नहीं थीं।