बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनाव में महज ही कुछ दिन बचे हुए हैं। ऐसे में राज्य का चुनाव जीतने के लिए बीजेपी-कांग्रेस दोनों ही ही एड़ी से चोटी तक की ताकत लगाये हुए हैं। वहीँ पिछले कई दिनों से कर्नाटक में डेरा जमाये बीजेपी के स्टार प्रचारक नरेंद्र मोदी ने आज फिर कांग्रेस पर बड़ा हमला किया।

बतादें कि देश के पीएम और बीजेपी के स्टार प्रचारक नरेंद्र मोदी इस समय कर्नाटक के विजयपुरा में जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस और राज्य के सीएम सिद्धारमैया पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता ने सिद्धारमैया सरकार अब राज्य से उखाड़ कर फेंकने का मन बना लिया है। साथ ही मोदी ने कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष और यूपीए प्रमुख सोनिया गाँधी को लेकर भी टिप्पणी की। दरअसल सोनिया गांधी आज करीब दो वर्ष के बाद चुनाव प्रचार में उतर रही हैं। जिससे बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी की हवा टाईट है। ऐसे में बिना नाम लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि, मैंने एक कांग्रेस नेता का इंटरव्यू देखा, जो कह रहा था कि अगर सोनिया आएगी, तो राज्य में पार्टी को फायदा मिलेगा।

कांग्रेस ने उतारा मोदी के टक्कर का प्रचारक, कई बार दिलवाई है केंद्र की जीत

इसका मतलब ये है कि कांग्रेस को अपने नेता में भी भरोसा नहीं है। पीएम नरेंद्र मोदी का भरोसे को लेकर मतलब राहुल गांधी से निकाला जा रहा है। इसके साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को सिर्फ वोटों की चिंता होती है। कांग्रेस ने बसवन्ना के सिद्धातों को त्याग दिया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि, केंद्र में पचास साल तक कांग्रेस की सरकार रही, इसके बाद वाजपेयी सरकार आई, और तब जाकर भगवान बशेश्वर की मूर्ति संसद में लगाई गई।

कांग्रेस नेता ने बताया पीएम मोदी और रुपया में इस बात की मची है होड़…

आगे मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बसवन्ना के विचारों के खिलाफ चल रही है। इस सरकार की नीति बांटो और राज करो की है, लेकिन कर्नाटक ने अब मन बना लिया है कि वह अब किसे भी ऐसी पार्टी को राज्य में नहीं रखेगी जो कि बांटने का काम करती हो। वहीँ इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने सिद्धारमैया सरकार पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि राज्य सरकार ऐसा कोई मंत्री नहीं है, जिस पर भ्रष्टाचार का आरोप न लगा हो। वहीँ पीएम नरेंद्र मोदी के ऐसे ही भ्रष्टाचार का आरोप लगाने को लेकर राज्य के सीएम सिद्धारमैया ने नरेंद्र मोदी और अमित शाह को कानूनी नोटिस भेजा है।