पटना: राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव को अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी के लिए जेल से सशर्त जमानत मिली थी। वहीँ गुरुवार को पटना पहुँचने के बाद उन्होंने लगातार जेल प्रशासन द्वारा लगाई गयी सभी शर्तों का उल्लंघन कर दिया है। ऐसे में लालू यादव की की मुश्किल बढ़ सकती है।

बतादें कि चारा घोटाला मामले में लम्बी सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव अपने बेटे तेज प्रताप यादव की शादी में शामिल होने लिए पटना पहुंचे हैं। गुरुवार को ही जेल प्रशासन ने उन्हें सशर्त जमानत दी थी। जिसके बाद लालू यादव बेटे की शादी में शामिल होने के लिए पटना पहुँच चुके हैं। वहीँ जेल प्रशासन से जमानत मांगने के बाद जेल अधिकारियों ने गुरुवार को बैठक की उसके बाद रांची स्थित रिम्स गये। जहाँ से उन्हें सशर्त जमानत दे दी गयी। लेकिन लालू यादव को जमानत मिलने के बाद से ही उन्होंने जेल की शर्तों का उल्लंघन करना शुरू कर दिया है

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार लालू गुरुवार को पटना पहुंचने के बाद राष्ट्रीय जनता दल के बैनर तले मंच पर गए और कार्यकर्ताओं और नेताओं से मुलाकात की। लालू यादव को मीडिया में बयान न देने और तेज प्रताप की शादी के अलावा किसी दूसरे कार्यक्रम में शामिल न होने की शर्त पर जमानत दी गई है। लेकिन उन्होंने जेल से निकलने के बाद जेल प्रशासन की शर्तों का जमकर मजाक उड़ाया। यहीं नहीं लालू को मिली जमानत और उसमें जोड़ी गयी शर्तों पर लालू यादव की बेटी और सांसद मीसा भारती ने पड़ा सवाल खड़ा किया है।

मीसा ने जेल प्रशासन पर दवाब में काम करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि, लालू यादव के साथ बुरा सलूक किया जा रहा है। मीसा भारती ने कहा कि पैरोल में इतनी शर्तें रखी गई हैं जैसे लालू यादव कोई बहुत बड़े अपराधी हों। मीसा ने कहा कि पैरोल लेना सबका अधिकार होता है और इसमें राजनीति नहीं होनी चाहिए। इससे पहले लालू को दिल्ली के एम्स से अचानक रिम्स दिचार्ज किये जाने के लेकर भी सवाल उठा था। ज्ञात हो कि लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की शादी 12 मई को शादी है। जिसके लिए लालू यादव को तीन दिन की जमानत मिली है।