Desk : शुक्रवार को लगने वाले खग्रास चंद्रग्रहण का भारत में दृश्य दिखेगा। भारतीय मानक के अनुसार चंद्रग्रहण का समय रात्रि-11 बतकर 54 मिनट से रात्रि 3 बजकर 49 मिनट पर मोक्ष तक रहेगा। सम्मिलन रात्रि-12:59 मिनट, उन्मिलन रात्रि 2:43 मिनट मध्य रात्रि 1-52 मिनट एवं मोक्षकाल रात्रि 3:49 मिनट पर होगा। धर्मशास्त्र के अनुसार चंद्र ग्रहण का सूतक स्पर्श काल से नौ घंटे पूर्व से ही लग जाता है।

ग्रहण के सूतक काल में मूर्ति पूजन वर्जित है। ग्रहण काल में भोजन, शयन, यात्ररंभ, नव कार्यारंभ एवं मल मूत्र उत्सर्जन भी शास्त्र के अनुसार वर्जित होता है। स्पर्शकाल में गंगास्नान, नदी-कूपादि स्नान, मध्यकाल में होम-जपादि तथा मोक्षकाल में पुनः स्नान की विशेष महत्व माना जाता है। ये तो था धर्मशास्त्र आइए जानते हैं क्या कहता है ज्योतिषशास्त्र

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहण का असर सभी राशियों पर पड़ता है किसी राशि पर इसका शुभ असर देखने को मिलता है तो कहीं इसका असर बहुत खतरनाक दिखता है। यह खग्रास चंद्र ग्रहण की 1 घंटे और 43 मिनट का रहेगा। इस चंद्र ग्रहण के दौरान चन्द्रमा बहुत ही खूबसूरत लाल या भूरे रंग का मजर आएगा। चंद्र ग्रहण के कारण विशेष रूप से कर्क रेखा क्षेत्र में विनाशकारी भूकंप, सुनामी, चक्रवात, ज्वालामुखी विस्फोट और आगजनी की घटनाएं हो सकती हैं।

खग्रास चन्द्रग्रहण इन राशियों के लिए रहेगा शुभ

मेष राशि: इस राशि वाले जातकों के लिए सुख-समृद्धी लाएगा चंद्रग्रहण।

सिंह राशि: आपकी राशि को सौख्य प्रदान करेगा चंद्रग्रहण।

वृश्चिक राशि: आपकी राशि वाले जातकों को होगा भरपूर धनलाभ।

मीन राशि: इस राशि के जातक को मानसिक सुख व हर तरह के लाभ प्रदान करेगा।

खग्रास चन्द्रग्रहण इन राशियों के लिए रहेगा खतरनाक

वृषभ राशि: इस राशि वाले जातकों की ग्रहण के कारण मान-सम्मान में कमी आएगी।

मिथुन राशि: इस राशि वाले जातकों को शारीरिक कष्ट भोगना पड़ सकता है।

कर्क राशि: आपकी राशि के जातकों को पीड़ा, स्त्री पीड़ा का सामना करना पड़ सकता है।

कन्या राशि: आपको ग्रहण के दुष्प्रभावों के कारण भय व चिंता का सामना करना पड़ सकता है।

तुला राशि: इस राशि के जातकों के लिए सामान्य रहेगा, व्यर्थ की चिंता ना करें।

धनु राशि: आपको आर्थिक क्षति का सामना करना पड़ सकता है। सतर्क रहें।

मकर राशि: घर से बाहर निकलने पर सतर्क रहें, कोई दुर्घटना घट सकती है।

कुंभ राशि: ग्रहण आपके लिए शुभ नहीं है इसलिए आपको हर कार्य में हानि हो सकती है।