Live Desk : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद रांची में सीबीआई के विशेष कोर्ट सरेंडर कर दिया है। लालू प्रसाद ने जस्टिस एसएस प्रसाद की कोर्ट में सरेंडर किया। कोर्ट ने उन्हें जल भेज दिया है। लालू प्रसाद अब जेल जाएंगे। पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि जेल जाने के बाद उनके इलाज पर कोई फैसला किया जाएगा। जेल प्रशासन अब उनका इलाज रिम्स में करवा सकता है। मगर उससे पहले लालू प्रसाद को जेल जाना पड़ेगा।

लालू प्रसाद के सरेंडर को लेकर सीबीआई कोर्ट की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। कोर्ट पहुंचे पर लालू प्रसाद ने मीडिया से कहा कि न्यायपालिका पर उन्हें पुरा भरोसा है। इसलिए वह कोर्ट में सरेंडर करने आए हैं। कोर्ट जैसा बोलेगी हम वैसा करेंगे। जहां रखेगी वहां रहेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे इलाज की जिम्मेदारी सरकार की है। लालू प्रसाद के कोर्ट पहुंचे से ठीक पहले जीतन राम मांझी कोेर्ट पहुंच चुकेे थे।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने कोर्ट में सरेंडर करने से पहले झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रमुख बालू लाल मरांडी से मुलाकात की। इसके अलावा रांची पहुंचे लालू प्रसाद से पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने भी मुलाकात की। उनके साथ में कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी भी मौजूद रहे। मुलाकात के बाद हेमंत सोरेन ने कहा कि लालू प्रसाद की तबीयत ठीक नहीं है। जो आप लोग देख रहे हैं वही हम भी देख रहे हैं। बाकी उनके स्वास्थ्य के बारे में डॉक्टर ही ज्यादा बता पाएगा, मगर मेरे हिसाब से तो वह ठीक नहीं हैं। वह कई तरह की दवाइयां खा रहे हैं।

आपको बता दें कि सीबीआई कोर्ट ने प्रोविजनल बेल को खारिज करते हुए कोर्ट ने लालू यादव को 30 अगस्त तक सरेंडर करने का निर्देश दिया है। 24 अगस्त को जस्टिस अरपेश कुमार सिंह की कोर्ट में लालू यादव के वकीलों ने मेडिकल ग्राउंड पर प्रोविजनल बेल की अवधि बढ़ाने की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। इससे पहले रांची हाइकोर्ट में 17 अगस्त को लालू प्रसाद यादव की प्रोविजनल बेल पर सुनवाई करते हुए 27 अगस्त तक के लिए बेल की अवधि बढ़ा दी गई थी।