आप को पता है कि डायमंड किंग ने अपने कर्मचारियो के लिए इस दिवाली पर क्या भेंट देंगे

पढ़िए पूरी खबर .……………

सुरत : हाल में डायमंड कारोबार पर मंदी का माहौल है । पिछले कुछ समय से मंदी के कारण हीरा कारोबार पर चिंता का विषय बना हुआ है । डायमंड किंग के तौर पर फेमस हीरा उद्धयोगपति सवजी भाई धोडाकिया खुद के कर्मचारीओ को 600 के लगभग कार इंसेंटिव के तौर पर दे रहे है । दिल में जगह बनाने वाले हिरा कारबारी सवजी भाई इस दिवाली पर बोनस में कार भेंट देकर कर्मचारियो की चांदी कर दी है ।

सूरत के डायमंड किंग सवजी भाई धोडाकिया पिछले पांच सालों से हीरा उद्धयोग में मंदी हो या फिर तेजी । खुद के कर्मचारियो को हर साल दिवाली से पहले इंसेंटिव गिफ्ट के तौर पर कार भेंट करते है । इस साल इंसेंटिव गिफ्ट लेने वाले कंपनी के कर्मचारियो की संख्या 600 है । हरी कृष्णा ग्रुप द्वारा आने वाले कल के दिन “स्किल इंडिया इंसेंटिव प्रोग्राम ” का आयोजन किया गया है ।

गौरतलब है कि सवजी भाई ढोलकिया ने बताया कि उनकी कंपनी में जो कर्मचारियो खुद की स्किल डेवलपमेन्ट करते है । ऐसे कर्मचारियो को कार दे रहे है। पिछले पांच सालों में उन्होंने अपने कर्मचारीओ को 1800 के लगभग कार गिफ्ट कर चुके है । और इस कार की कीमत कंपनी द्वारा चुकाया जाता है ।

एक तरफ हीरा उद्योग में भारी मंदी है, वहीँ दूसरी ऒर हीरा कारोबार में लिप्त हीरा उद्योग पति खूद के कर्मचारीओ को दीपावली के पर्व से पहले बोनस में कार गिफ्ट दे रहे है । सवजी भाई धोडाकिया ने बताया कि,मंदी हो या फिर तेजी हो इंसेंटिव नक्की किया गया है । और उसके मुताबिक वह हर साल खुद के कर्मचारीओ को माप दंड के अनुसार गिफ्ट देते है । कंपनी द्वारा मारुती की सेलेरियो और किवीड तथा आल्टो कार दिया जायेगा ।

दो दिव्यांग सहित तीन महिला कर्मचारीओ को भी कार इंसेंटिव में दिया जायेगा । जिसमे से एक महिला कार्मचारी को खुद का मकान को बेहतर बनाने के लिए आर्थिक सहायता दिया जायेगा । अब तक कार,मकान,और जेवलरी, देकर हरी कृष्णा एक्सपोर्ट कंपनी ने 4000 कर्मचारीओ को इनसेंटिव का लाभ मिला हुआ है

सवजी धोडाकिया ने बताया कि जब गुरुवार के दिन कर्मचारियो को कार की चाभी दिया जायेगा तब चार कर्मचारीओ को खुद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली से चाभी भेंट करेंगे । और वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संबोधित करेंगे । जिसके कारण कंपनी के कर्मचारीओ में मोटीवेशन की भावना जागृत होगी । जिसके कारण कंपनी को भी फायदा होगा ।