सुरत : सुरत शहेर के वेसु इलाके में आई आगम आर्केट कॉम्प्लेक्स में शाम करीबन 8 बजे के आस पास शार्ट सर्किट से आग लग गई । आग लगने के बाद कॉम्प्लेक्स में अफरा तफरी मच गई । आग ग्राउंड फ्लोर से सीधे तीसरे मंजिले तक पहुँच गई । कॉम्प्लेक्स के अंदर 2 हजार से लोग उस समय मौजूद थे ।

तीसरी मंजिल पर फंदे 30 बच्चे

आगम आर्केट कॉम्प्लेक्स में जिस समय फायर हुआ उस समय तीसरे मंजिल पर कूरिओस माइंडस एकडमी कोचिंग सेंटर में 30 बच्चे मौजूद थे । फायर लिफ्ट के पास का भाग पूरा आग की चपेठ में आ गया जिसकी वजह से बच्चे बहार नहीं निकल सके ।
घटना की जानकारी फायर की टीम को मिलने के बाद घटना पर पहुची फायर की 5 गाड़ी और जवान ने ऑपरेशन सुरु किया ।

फायर से पहले सीआईएस की टीम घटना स्थल पर पहुच कर ऑपरेशन सुरु कर दिया था । ऑपरेशन में सीआईएस और फायर की टीम के ऑफिसर की मदद से सभी सलामत तो निकाल लिए गए । लेकिन तीसरे मंजिल पर फंसे 4 बच्चो को धुंवा के कारण बेहोश हो गए थे । फायर उन्हें सब से पहले हाइड्रोलिक सिस्टम से बहार निकाल कर एम्बुलेंस के जरिये अस्पताल रवाना कर दिया ।

आगम आर्केट की यह पहली घटना नहीं है । इससे पहले भी ग्राउण्ड फ्लोर ओर एक कपडे की दूकान जल कर ख़ाक हो गई । कपडे की दूकान का मालिक ने फास्ट फूड की दूकान रेंट पर दे कर रखा था । जिसकी वजह से आग पुरे दूकान में लग गई थी । गनीमत रही की कोई जान हानि नहीं हुई थी ।

इस बार आग इतनी भयानक थी की आग नीचे से ऊपर तक छण मिनट में आग बेकाबू हो गई । आग कॉम्प्लेक्स के बीचों बीच हिस्से में लगने के कारण कई ऑफिस,दूकान,क्लीनिक,के कर्मचारी बहार निकलने में काफी मसक्कत करनी पड़ी । आग का धुंवा पुरे कॉम्पलेक्स में फ़ैल गया जिसके कारण बचाव के लिए अंदर जाना एक जोखिम था ।

कोचिंग सेंटर में फंसे बच्चो को निकलने के लिए क्लास के सभी ग्लास तोड़ दिए गए । उसके बाद फायर बिग्रेड के जवान सीढी लगाकर ऊपर की और गए । हाइड्रोलिक सिस्टम से उन्हें नीचे उतरा गया । जिसमे 4 बच्चे बेहोश की हलात में मिले ।

आग इतनी भयानक थी की फायर ब्रिगेड के जवान अंदर जाने से डर रहे थे । हलाकि कुछ समय के बाद जब ऑक्सीजन लेकर अंदर हुए तो लोगो के अंदर जान आ गई । क्यों की अंदर जाने का कोई रास्ता नहीं था ।

गौरतलब है कि पुलिस प्रशासन की और रात को कॉम्प्लेक्स को सील कर दिया गया है । आग की लपेठ में अब तक 1 बच्चे की जान गई है । जब की एक महिला टीचर को वेंटीलेटर पर रखा गया है ।