गुजरात नॉनस्टॉप
सूरत ।गुजरात की नामी दवा उत्पाद कंपनी जोटा हेल्थकेर की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जेनरीक दवाइयों के अभियान से प्रेरित होकर अधिक से अधिक सस्ती जेनरीक दवाइयां लोगों तक पहुँचाने के लिए दवा इंडिया के ब्रैन्ड नाम से फ्रेन्चाइजी स्टोर प्रोजेक्ट की शुरुआत की है, तब गणतंत्र दिवस के अवसर पर कंपनी की ओर से देश में एक साथ 26 स्टोर शुरू कर कीर्तिमान स्थापित किया जा रहा है ।

कंपनी के चेयरमैन केतन जोटा ने बताया कि दवा इंडिया आज भारत में प्राइवेट सेक्टर की सबसे बड़ी रिटेल चेन बन चुकी है ।दवा इंडिया भारत की रिटेल जेनरीक फार्मसी चेन है, जिसमें 100% प्रोडक्ट अपनी ब्रान्ड की है। (यानी प्राइवेट लेबल प्रोडक्ट्स) भारत में अब तक 80 स्टोर कार्यरत है और 26 जनवरी को नए 26 स्टोर शुरू किए जा रहे हैं।

वहीं अन्य 34 स्टोर का एग्रीमेंट भी हो चुका है ।नए 26 स्टोर की शुरुआत के साथ देश के 10 राज्यों में कंपनी के 106 स्टोर हो जाएंगे। दवा इंडिया के स्टोर में 1200 से अधिक दवाइयां जैसे की ह्रदय रोग,डायाबिटीज, ब्लड प्रेशर, थाइरोइड, स्कीन केर, आर्थराइटीज, कैंसर, न्युट्रास्युटीकल उत्पाद तथा आयुर्वेद, काॅस्मेटीक उपलब्ध है ।

दवा इंडिया में अब तक 4 लाख से अधिक लोगों ने सस्ती दवाइयों का लाभ लिया है। जेनरीक दवाइयों की कीमत ब्रान्डेड दवा से 90 % तक सस्ती होती है। जेनरीक दवाइयां भी ब्रान्डेड दवाइयों की तरह गुणवत्ता युक्त होती है और दोनों एक जैसी ही प्रभावी होती है।

कंपनी का लक्ष्य है कि अधिक लोगों तक जेनरीक दवाइयों का लाभ पहुंचे ,जिससे कंपनी ने पहले से ही दवाइयों की एम आर पी कम और फिक्स रखी है । देश में कई मरीज महंगी दवाइयों के कारण इलाज करवा सकते नहीं है । इसलिए दवा इंडिया जेनरीक फार्मसी के देश के कोने-कोने में स्टोर शुरू होने से अधिक से अधिक मरीजों को कम कीमत में गुणवत्ता युक्त दवाइया प्राप्त होगी।

गौरतलब है कि जोटा हेल्थकेर गुजरात स्थित दवा उत्पाद कंपनी है, जो मुख्य रूप से मार्केटिंग और दवाइयां ,ओटीसी उत्पाद तथा चिकित्सकिय दवाइयों का उत्पादन करती है। वर्ष 2000 हजार में स्थापित कंपनी के भारत में 1250 से अधिक डिस्ट्रीब्यूटर है । भारत के साथ ही कंपनी का 22 देशों में कारोबार है।कुछ समय पहले ही कंपनी सबसे बड़े NSE Emerge पब्लिक इश्यू के साथ शेयर मार्केट में लिस्टेड हुई है ।