सूरत : झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा मन की बात जानने के लिए गुरुवार को सुरत पहुँचे, पांडेसरा जीआईडीसी में साउथ गुजरात टेक्सटाइल प्रोसेसर्स एसोसिएशन के कार्यालय पर अर्जुन मुंडा ने प्रोसेसर्स और वीवर्स के मन की बात सुनी,प्रोसेसर्स और वीवरो ने जीएसटी लागू होने के बाद लूम्स उद्योग और प्रोसेस हाउस के बिगड़ते हालात की स्थिति से अवगत कराया ।

फोगवा ने लोगो के मन की बात में वीविंग इंडस्ट्री की जरूरतों पर प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है जिसमे मौजूदा 25 हजार लूम्स इकाइयों को विजली में राहत देने और टफ की सब्सिडी 30 फीसदी करने की माँग की । इसके अलावा गुजरात मे टेक्सटाइल मंत्रालय के गठन का मुद्दा उठाया गया । टफ की लंबित सब्सिडी का समाधान किया जाय । फोगवा ने पोस्ट से अपना पत्र प्रधानमंत्री को भेजा है । उधर प्रोसेसर्स ने भी टफ सब्सिडी 10 से बढ़ाकर 30 फीसदी करने की मांग की है ।

मन की बात पिछले ढेर साल से कर रहे है लेकिन पूरी अभी तक नही

मन की बात जानने के लिए टेडर्सो को बलाया तक नही ।

अर्जुन मुंडा ने गुरुवार टेक्सटाइल उद्योग से जुड़े वीवर्स और प्रोसेसर्स के मन की बात तो सुनी, लेकिन ट्रेडर्स को बुलाया तक नही,इससे ट्रेडसो में नाराजगी देखी गई ।