हैदराबाद.आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में शुक्रवार को नाव पलटने से 13 लोग डूब गए। वहां मौजूद लोगों ने 4 को बचा लिया, जबकि एक लापता है। पुलिस के मुताबिक, नाव में एक ही फैमिली के 18 लोग सवार थे। वजन ज्यादा होने की वजह से नाव लेक में डूब गई। पोस्टमार्टम के लिए डेड बॉडी सरकारी हॉस्पिटल भेजी गई हैं।
बोटिंग के लिए आई थी फैमिली…
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हादसा यहां की इरातिम्मा राजू लेक में हुआ। मरने वालों में 7 महिलाएं और 6 बच्चे शामिल हैं। एक धार्मिक प्रोग्राम में शामिल होने के बाद सभी बोटिंग के लिए लेक पहुंचे थे।
कुछ गांववालों ने डूब रहे लोगों की चीख-पुकार सुनकर लेक में छलांग लगाई। लेकिन वह सिर्फ 4 को बचा सके। जानकारी के बाद पुलिस ने गोताखोरों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया।
छोटी-सी बोट में 18 लोग बैठे तो मछुआरा भागा
पुलिस के मुताबिक, एक मछुआरा नाव को मछलियां पकड़ने के लिए इस्तेमाल करता है। जब 18 लोग छोटी-सी नाव में सवार हुए तो वह इसे छोड़कर दूर चला गया। जबकि फैमिली को इसे चलाने की जानकारी नहीं थी।
आंध्र प्रदेश की सीएम एन. चंद्रबाबू नायडू ने हादसे पर दुख जताया। उन्होंने जिले के एसपी और कलेक्टर से बातकर जानकारी ली। साथ ही कैबिनेट मंत्री परिताला सुनीता को मौके पर जाकर रेस्क्यू पर नजर रखने और मदद के लिए कहा है।